Sunday, July 14, 2024
HomeDelhiDelhi Water Crisis: ध्यान दें! दिल्लीवासियों के लिए जरूरी खबर, दिन में...

Delhi Water Crisis: ध्यान दें! दिल्लीवासियों के लिए जरूरी खबर, दिन में अब दो नहीं एक बार ही मिलेगा पानी

India News Delhi (इंडिया न्यूज़), Delhi Water Crisis: राजधानी में गर्मी शुरू होते ही पानी की मांग बढ़ जाती है। कई जगहों पर जल बोर्ड की पाइप लाइने टूटी हुई हैं, जिससे हजारों लीटर पानी बर्बाद हो रहा है। वहीं, कई इलाकों में पेयजल के लिए भारी संघर्ष करना पड़ता है और लोगों को घंटों पानी के टैंकर का इंतजार करना पड़ता है। जब पानी का टैंकर आता है, तो स्थानीय निवासी पानी लेने के लिए टूट पड़ते हैं।

जल संकट से निपटने के लिए, दिल्ली के उन क्षेत्रों में जहां दिन में दो बार पानी की आपूर्ति की जाती थी, अब सिर्फ एक बार ही पानी दिया जाएगा। दिल्ली सरकार के अनुसार, हरियाणा से पर्याप्त पानी नहीं मिलने की वजह से यह निर्णय लिया गया है।

Delhi Water Crisis: जुर्माना लगाने की तैयारी

दिल्ली सरकार अब पानी की बर्बादी करने वालों पर जुर्माना लगाने की तैयारी कर रही है। मंगलवार को जल मंत्री आतिशी ने प्रेस वार्ता में हरियाणा पर दिल्ली के हिस्से का पानी नहीं देने का आरोप फिर से लगाया। उन्होंने कहा कि यमुना में कम पानी छोड़ने के कारण दिल्ली के कई क्षेत्रों में पानी की गंभीर समस्या हो गई है। दिल्ली की जल आपूर्ति यमुना पर निर्भर है और यमुना में जल स्तर बनाए रखना हरियाणा सरकार की जिम्मेदारी है। कम पानी छोड़े जाने के कारण वजीराबाद में जल स्तर नीचे गिर गया है, जिससे जल आपूर्ति बाधित हो रही है।

एक सप्ताह से दिल्ली के कई क्षेत्रों में जल संकट

दिल्ली के जल उपचार संयंत्रों (डब्ल्यूटीपी) को पर्याप्त पानी नहीं मिल रहा है, जिससे 30 से 35 मिलियन गैलन प्रतिदिन (एमजीडी) उपचारित पानी की कमी हो गई है। पिछले एक सप्ताह से दिल्ली के कई क्षेत्रों में जल संकट की गंभीर समस्या बनी हुई है, जिससे निपटने के लिए कई कदम उठाने पड़ रहे हैं।

इस समस्या के समाधान के लिए, दिल्ली के जिन क्षेत्रों में दिन में दो बार पानी की आपूर्ति की जाती थी, अब वहां सिर्फ एक बार ही पानी दिया जाएगा। यदि एक-दो दिनों में हरियाणा से पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिला, तो दिल्ली सरकार सुप्रीम कोर्ट जाएगी। साथ ही, दिल्ली में कच्चे पानी की आपूर्ति बढ़ाने की भी कोशिश की जा रही है।

पानी बर्बाद न करने की अपील

जल मंत्री ने कहा कि समस्या को कम करने के लिए अब 14 घंटे तक बोरवेल चलाए जा रहे हैं, जबकि पहले यह सिर्फ छह से सात घंटे ही चलाए जाते थे। वाटर टैंकर की संख्या भी बढ़ा दी गई है। उन्होंने लोगों से अपील की कि वाहन धोने, पानी का मोटर चलाकर छोड़ देने जैसी हरकतों से पानी बर्बाद न करें। आवश्यकता पड़ने पर पानी बर्बाद करने वालों पर जुर्माना लगाने की चेतावनी भी दी गई है।

Delhi Water Crisis: इन क्षेत्रों में है पेयजल संकट

दिल्ली के कई क्षेत्रों में पेयजल संकट की समस्या बनी हुई है। रोहिणी, बेगमपुर, इंद्र एन्क्लेव, रोहिणी सेक्टर-24 के पाकेट-8, 16, 12, 11 और 18, बेगम विहार, बेगमपुर, बेगमपुर गांव, राजीव नगर और कैलाश विहार में पानी की कमी हो रही है। सुल्तानपुरी, मंगोलपुरी और जहांगीरपुरी के कुछ हिस्सों में गंदे पानी की आपूर्ति हो रही है।

यमुनापार के न्यू माडर्न शाहदरा, न्यू अशोक नगर, चिल्ला गांव, मध्य दिल्ली के सराय रोहिल्ला, मानकपुरा, डोलीवालान, प्रभात रोड, रैगरपुरा, बीडनपुरा, देव नगर, बापा नगर, नाइवालान, बलजीत नगर, रणजीत नगर, दक्षिणी पटेल नगर और ईस्ट पटेल नगर में जल आपूर्ति प्रभावित है। दक्षिणी दिल्ली के ओखला फेज-2 में संजय कॉलोनी, संगम विहार और देवली में पानी की आपूर्ति नियमित नहीं है।

Read More:

SHARE
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular