Tuesday, July 23, 2024
HomeDelhiMonsoon Planning: मानसून शुरू होने से पहले दिल्ली में शुरू हुई तैयारियां,...

Monsoon Planning: मानसून शुरू होने से पहले दिल्ली में शुरू हुई तैयारियां, जानिए क्या है MCD का प्लान

India News Delhi (इंडिया न्यूज), Monsoon Planning: मानसून की पहली बूंदों से पहले, वर्षा जल को संचित करने वाले MCD ने एक महत्वपूर्ण कदम उठाया है। उन्होंने सभी 258 रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टमों को पूरी तरह से तैयार करने का निर्णय लिया है। इन सिस्टमों की देखभाल के लिए, सिल्ट और मिट्टी से ढके हुए सिस्टम को साफ किया जाएगा और उन्हें पुनः संरचित किया जाएगा। इस प्रक्रिया के दौरान, सबसे नीचे मोटे पत्थर (कंकड़), मध्यम आकार के पत्थर (रोड़ी) और सबसे ऊपर बारीक रेत या बजरी, कपड़ा, डालकर उन्हें पुनः तैयार किया जाएगा। इस महत्वपूर्ण उपाय के अलावा, इस साल करोल बाग जोन में 3 नए रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम भी लगवाए जायेंगे।

Monsoon Planning: मानसून शुरू होने से पहले ही उठाये कदम

जून के आखिर तक, एमसीडी के उद्यान विभाग ने सभी वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को दुरुस्त करने की योजना बनाई है। अधिकारियों का कहना है कि फुल मानसून जुलाई में होता है, इसलिए अभी तक समय है और उन्हें अपने सिस्टमों को साफ करने और नए सिस्टम बनाने के लिए समय मिल जाएगा। जल संकट दिल्ली ही नहीं, बल्कि पूरी दुनिया की एक बड़ी समस्या है। वर्षा जल को संचित करके भूजल स्तर को बचाया जा सकता है, और जल संचय के माध्यम से भविष्य में शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराया जा सकता है। इसके लिए, एमसीडी ने रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टमों की संख्या बढ़ाने के लिए दिल्लीभर में स्थान का सर्वे किया जा रहा है।

MCD करेगी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का उपयोग

MCD ने अपने पार्कों में बंद पड़े बोरवेल के स्थान पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम का इस्तेमाल किया है। यह बहुत ही अनूठी बात है कि ये सिस्टम वहां के पार्कों में सालों से बंद पड़े बोरवेल के जगह पर लगाए गए हैं। पहले इस प्रयोग को पूर्वी दिल्ली में किया गया था, और अब यह पूरे दिल्ली में लागू किया गया है। इस कार्यक्रम के दौरान दिल्ली में कुल 258 रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम तैयार किए गए हैं, जिनसे लाखों लीटर वर्षा जल फिर से भूजल में परिवर्तित हो रहा है। इसके परिणामस्वरूप, भारी बारिश के बाद भी इन स्थानों पर जलभराव होना बंद हो गया है।

Monsoon Planning: इतने का बना एक रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम

MCD ने इन सभी रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को बहुत ही कम लागत में तैयार किया है। निगम के अधिकारियों के अनुसार, एक रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम बनाने में लगभग 15 हजार रुपये की खर्च आती है। इसके लिए सबसे पहले जगह पर एक 3 फुट चौड़ा और 5 फुट गहरा गड्ढा खोदना पड़ता है। इस गड्ढे में पानी को छानने के लिए कंकड़, रोड़ी, बालू और कपड़े का उपयोग किया जाता है।

Read More:

SHARE
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular