Sunday, July 14, 2024
HomeBreaking NewsDelhi Liquor Policy: मनीष सिसोदिया को लगा बड़ा झटका, न्यायिक हिरासत 15...

Delhi Liquor Policy: मनीष सिसोदिया को लगा बड़ा झटका, न्यायिक हिरासत 15 जुलाई तक बढ़ी

India News Delhi (इंडिया न्यूज़), Delhi Liquor Policy: दिल्ली की राउज एवेन्यू कोर्ट ने शराब नीति से जुड़े सीबीआई मामले में पूर्व डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 15 जुलाई तक बढ़ा दी है। राउज एवेन्यू कोर्ट ने इससे पहले सिसोदिया की हिरासत 6 जुलाई तक बढ़ाई थी। आज उनकी हिरासत खत्म हो रही थी। कोर्ट में पेश होने के बाद उन्हें वापस तिहाड़ ले जाया गया। 3 जुलाई को दिल्ली की एक कोर्ट ने शराब नीति से जुड़े मनी लॉन्ड्रिंग मामले में सिसोदिया की न्यायिक हिरासत 25 जुलाई तक बढ़ा दी थी। सीबीआई ने सिसोदिया को 26 फरवरी, 2023 को गिरफ्तार किया था। ईडी ने उन्हें न्यायिक हिरासत के दौरान 9 मार्च, 2023 को गिरफ्तार किया था। तब से सिसोदिया तिहाड़ जेल में हैं।

न्यायिक हिरासत 15 जुलाई तक बढ़ी

दिल्ली शराब घोटाला मामले में राउज एवेन्यू कोर्ट ने आप नेता मनीष सिसोदिया की हिरासत 15 जुलाई तक बढ़ा दी है। इससे पहले राउज एवेन्यू कोर्ट ने मनीष सिसोदिया और अन्य आरोपियों की न्यायिक हिरासत 6 जुलाई तक बढ़ा दी थी, जिसके बाद आज उन्हें फिर से कोर्ट में पेश किया गया। राउज एवेन्यू कोर्ट 8 जुलाई को मामले की सुनवाई करेगा।

ये भी पढ़े: Delhi Rain: बीजेपी ने AAP पर बोला हमला, कहा- ‘ दिल्ली सरकार ने जल बोर्ड को टैंकर माफिया को बेच दिया’

पिछले साल फरवरी से हिरासत में हैं सिसोदिया

सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किए जाने के बाद पिछले साल 26 फरवरी से सिसोदिया हिरासत में हैं। इसके बाद ईडी ने उन्हें गिरफ्तार किया था। इससे पहले बुधवार को दिल्ली की एक अदालत ने मनीष सिसोदिया और बीआरएस नेता के. कविता की न्यायिक हिरासत 25 जुलाई तक बढ़ा दी थी। इसके साथ ही अदालत ने ईडी को दो दिन के भीतर आरोपियों को आरोप पत्र और दस्तावेजों की प्रतियां उपलब्ध कराने का निर्देश दिया था।

जेल से लिखा था पत्र

दिल्ली शराब घोटाला मामले में तिहाड़ में बंद सिसोदिया ने 5 अप्रैल को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने उम्मीद जताई थी कि वे जल्द ही जेल से रिहा हो जाएंगे। सिसोदिया ने अपने पत्र में लिखा था कि अंग्रेजों को भी अपनी ताकत पर बहुत घमंड था। अंग्रेज भी झूठे आरोप लगाकर लोगों को जेल में डाल देते थे। अंग्रेजों ने गांधी-मंडेला को भी जेल में डाला था। ब्रिटिश शासकों की तानाशाही के बावजूद आजादी का सपना साकार हुआ।

ये भी पढ़े: Delhi News: लेट से RCs देने वाले कार डीलरों पर होगी सख्त कार्रवाई, दिल्ली…

SHARE
- Advertisement -
Nidhi Jha
Nidhi Jha
Journalist, India News, ITV network.
RELATED ARTICLES

Most Popular