Tuesday, July 23, 2024
HomeDelhiTihar Jail: अस्पताल में काम करेंगे कैदी! जेल में कैदियों की संख्या...

Tihar Jail: अस्पताल में काम करेंगे कैदी! जेल में कैदियों की संख्या अधिक होने पर DG ने दी कई सलाह

India News Delhi (इंडिया न्यूज), Tihar Jail: तिहाड़ जेल के निदेशक महाशय संजय बेनीवाल ने बताया कि जेल प्रत्येक कैदी पर दिन में लगभग 800 रुपए खर्च करता है, जिससे महीने के लगभग 24,000 रुपए का खर्च होता है। उन्होंने यह जानकारी मंगलवार, 16 अप्रैल को दी। साथ ही, उन्होंने बताया कि वर्तमान में लगभग 700 कैदियों को होटल इंडस्ट्री में नौकरी मिली है, जिन्हें प्रशिक्षित किया गया है, और अस्पतालों में नौकरियां करने के लिए 12,000 से अधिक कैदियों को भी प्रशिक्षित किया जा रहा है।

संजय बेनीवाल ने कैदियों को कौशल विकास और सशक्तिकरण के अवसर प्रदान करने का सकारात्मक प्रभाव बताया। उन्होंने कहा कि जेल से बाहर काम करने के लिए सर्टिफिकेट और नौकरी के प्रस्ताव मिलने पर, उन्होंने कैदियों की आंखों में मुस्कान और चमक देखी। बेनीवाल ने इस बात को जोर दिया कि कैदियों को कौशल सिखाने से वे योग्य व्यक्ति बनते है। जेल प्रशासन ने नगरीय विकास मंत्रालय की सहायता से 2023 में कौशल विकास कार्यक्रम की शुरुआत की थी। इस कार्यक्रम के तहत, जेलों के अंदर अंडरट्रायल कैदियों को प्रशिक्षण दिया जाता है। यह पहल कैदियों को मूल्यवान कौशल प्रदान करती है, जिससे उनकी रिहाई के बाद रोजगार के संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

Tihar Jail: संजय बेनीवाल ने कही ये तीन अहम बातें!

जेल में जरूरत से अधिक कैदियों की संख्या: तिहाड़ जेल के निदेशक ने बताया कि जेल की क्षमता केवल 10,000 कैदियों की है, लेकिन वहां 20,000 कैदी रहते हैं। इस समस्या का समाधान जेलों के और बनाने में नहीं है, बल्कि व्यवस्था को सुधारने और लोगों को बेहतर विकल्प प्रदान करने की आवश्यकता है।

विदेशों के तर्ज पर जेलों का प्राइवेटाइजेशन: जेल का प्राइवेटाइजेशन भारत में अमेरिका की तरह नहीं होना चाहिए, क्योंकि वहां प्रति लाख गिरफ्तारियों की संख्या भारत से अधिक है।

जेल में सुविधाएँ और इंफ्रास्ट्रक्चर: जेल अधिकारियों ने कैदियों के आत्मिक और मानसिक स्थिति को सुधारने के लिए कड़ी मेहनत की जा रही है। कैदियों को स्पिरिचुअल कोर्सेज, ध्यान और व्यायाम कराया जाता है, जिससे उन्हें अपनी गलतियों का एहसास होता है।

अरविन्द केजरीवाल पर भी बोले संजय बेनीवाल

संजय बेनीवाल ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बारे में भी बात की। उन्होंने इस बारे में कहा कि जेल में किसी भी कैदी को उनके अपराध के आधार पर विभाजित नहीं किया जाता है। सभी कैदियों को बुनियादी अधिकार होते हैं और उन्हें समान रूप से इन्श्योर किया जाता है। उन्होंने बताया कि तिहाड़ जेल में अरविंद केजरीवाल से मुलाकात नहीं हो पाने पर पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान ने ऐसा आरोप लगाया था कि केजरीवाल को वहां विशेष सुविधाएँ नहीं मिल रही हैं, जो कट्टर अपराधियों को भी मिलती हैं। इस पर बेनीवाल ने कहा कि तिहाड़ जेल में कुल 20,000 कैदी हैं और रोज लाखों लोग उनसे मिलने आते हैं। उन्होंने कहा कि अब तक कोई भी शिकायत नहीं आई है और इसलिए उन्हें लगता है कि कैदियों के साथ विभिन्न व्यवहार नहीं होता।

Read More:

SHARE
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular