Monday, June 17, 2024
HomeBreaking NewsBaby Care Centre Fire: बच्चों को बचाने के लिए अंदर भागे स्थानीय लोग,...

Baby Care Centre Fire: बच्चों को बचाने के लिए अंदर भागे स्थानीय लोग, पढ़िए Baby Care Centre अग्निकांड की इनसाइड स्टोरी

India News Delhi (इंडिया न्यूज़), Baby Care Centre Fire: दिल्ली के शाहदरा जिले के विवेक विहार इलाके में शनिवार देर रात एक शिशु देखभाल केंद्र में आग लग गई, जिससे वहां अफरा-तफरी मच गई। इसकी सूचना तुरंत फायर ब्रिगेड को दी गई। सूचना मिलते ही दमकल की 16 गाड़ियां मौके पर पहुंच गईं। जब हमारे अग्निशमन विभाग के कर्मचारी वहां पहुंचे तो बाल देखभाल केंद्र में बच्चे और कर्मचारी मौजूद थे। हादसे के बाद वह जान बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगा। दमकलकर्मी भी राहत कार्य में जुट गये। भीषण आग की चपेट में आने से 7 बच्चों की जलकर मौत हो गई है। शोर के बीच स्थानीय लोग मदद के लिए दौड़ पड़े।

नवजात शिशु खिड़कियां तोड़कर भाग निकले

आग ने ऊपरी मंजिल को अपनी चपेट में ले लिया, लोगों ने पुलिस और अग्निशमन विभाग के साथ मिलकर इमारत के पीछे की खिड़कियां तोड़ दीं और किसी तरह नवजात बच्चे एक-एक करके बाहर निकले। नवजात शिशुओं को बचाने के लिए वे परिसर की दीवार फांद गए और इमारत के पीछे की तरफ से चढ़ गए। प्रत्यक्षदर्शियों ने कहा कि स्थानीय निवासी और गैर-लाभकारी संगठन शहीद सेवा दल के सदस्य मदद के लिए सबसे पहले आगे आए। एक निवासी रवि गुप्ता ने कहा कि स्थानीय लोग सबसे पहले जलते हुए अस्पताल में घुसे और जितना हो सके उतने शिशुओं को बाहर निकाला। बाद में उन्हें दूसरे निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया।

ALSO READ: Supreme Court: दिल्ली में 2006 तक के जमीन अधिग्रहण को कोर्ट ने ठहराया सही, जानें क्या कहा

चश्मदीदों ने क्या कहा

प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि आग धमाके की तेज आवाज के साथ लगी। ऐसे में आशंका है कि सिलेंडर फटने से आग लगी है। भगत सिंह सेवा दल के अध्यक्ष जितेंद्र सिंह शंटी ने बताया कि तेज धमाके के बाद आग लग गई। बताया जा रहा है कि अस्पताल के बाहर एंबुलेंस में ऑक्सीजन रिफिलिंग का काम किया जाता है। ऑक्सीजन रिफिलिंग के दौरान सिलेंडर फट गया। एक के बाद एक तीन सिलेंडर फट गए। जिसके चलते पहले अस्पताल में और फिर बगल की बिल्डिंग में भी आग लग गई।

कैसे घटी घटना?

अग्निशमन विभाग और पुलिस का कहना है कि शिशु देखभाल केंद्र के पास एक एम्बुलेंस में ऑक्सीजन गैस रिफिल की जा रही थी तभी विस्फोट की आवाज सुनी गई। इसके बाद आग पूरी बिल्डिंग में फैल गई। स्थानीय लोगों ने बताया कि जब वे मौके पर पहुंचे तो देखा कि बिल्डिंग के सामने वैन में ऑक्सीजन सिलेंडर भरने का काम चल रहा था और सिलेंडर फट गया। पहला सिलेंडर फटा और बिल्डिंग के अंदर चला गया, जिससे आग लग गई। आग लगते ही अस्पताल के सभी कर्मचारी बच्चों को छोड़कर बाहर निकल गए, जिसके बाद एक-एक कर तीन और सिलेंडर फट गए। हम बिल्डिंग के पीछे गए और शीशा तोड़कर बच्चों को बाहर निकाला।

ALSO READ: तलाक पर क्या बोले हार्दिक पांड्या?

SHARE
- Advertisement -
Nidhi Jha
Nidhi Jha
Journalist, India News, ITV network.
RELATED ARTICLES

Most Popular