Sunday, May 26, 2024
HomeDelhiDelhi Helmet Bank: अब बिना किसी खर्च के आपको मिलेगी 24 घंटे...

Delhi Helmet Bank: अब बिना किसी खर्च के आपको मिलेगी 24 घंटे तक हेलमेट ले जाने की सुविधा, जानिए कैसे

India News Delhi(इंडिया न्यूज़), Delhi Helmet Bank: राजधानी दिल्ली के पीतमपुरा क्षेत्र में एक नई पहल हेलमेट बैंक की शुरुआत हुई है। मधुबन चौक पर स्थित इस हेलमेट बैंक से लोग बिना किसी शुल्क के हेलमेट ले सकते हैं और उन्हें 24 घंटे के भीतर वापस कर सकते हैं। अभी तक, यह सुविधा सिर्फ पीतमपुरा क्षेत्र के मधुबन चौक पर ही उपलब्ध है। दिल्ली में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को देखते हुए, इस पहल की शुरुआत की गई है। इस पहल का आयोजन दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल संदीप शाही ने किया है। इस सुविधा के माध्यम से लोगों को सुरक्षित रहने के लिए हेलमेट का प्रयोग करने की प्रेरणा दी जा रही है।

Delhi Helmet Bank: इतने समय के लिए मिलेगी सुविधा

पीतमपुरा के मधुबन चौक में सुरक्षित सड़क यातायात को बढ़ावा देने के लिए एक नई पहलकदम उठाया गया है। दिल्ली पुलिस के हेड कांस्टेबल संदीप शाही द्वारा शुरू किया गया हेलमेट बैंक आज सुबह 8 बजे से रात 8 बजे तक उपलब्ध होगा। इस सुविधा का मुख्य उद्देश्य दोपहिया वाहन चालकों की सुरक्षा सुनिश्चित करना है।

संदीप शाही ने दिल्ली में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं के सामने आवाज़ उठाई और इस हेलमेट बैंक को स्थापित करने का निर्णय लिया। यह सुविधा दिन-रात सुरक्षित और व्यावसायिक चालकों को हेलमेट प्रदान करने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है। संदीप शाही ने अपने प्रयासों के लिए अनेक बार सराहना प्राप्त की है और उन्हें दिल्ली पुलिस की पीसीआर यूनिट में तैनात किया गया है। उन्होंने अपने सात वर्षों के सेवा काल में 2400 हेलमेट बांटे हैं और सड़क सुरक्षा को महत्वपूर्ण बनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।

कैसे आया ये आईडिया

हेड कांस्टेबल संदीप शाही की एक सरल सोच ने बना दिया है पीतमपुरा के मधुबन चौक पर एक अनोखा हेलमेट बैंक। उन्होंने इस विचार को अंजाम देने का निर्णय इसलिए लिया क्योंकि उन्हें अपने परिवार के साथ यात्रा करते समय हेलमेट की आवश्यकता महसूस हुई थी, जो उनके पास नहीं था।

उन्होंने साझा किया कि अक्सर लोगों को किसी के साथ सफर करने के लिए हेलमेट की आवश्यकता होती है, लेकिन वे इसे नहीं लेते क्योंकि एक-दो घंटे के लिए हेलमेट की कीमत काफी अधिक होती है। इसलिए, वे बिना हेलमेट के ही यात्रा करते हैं, जिससे उनकी सुरक्षा संदिग्ध होती है। इस मुद्दे को ध्यान में रखते हुए, संदीप शाही ने इस हेलमेट बैंक की स्थापना की, जो लोगों को हेलमेट प्रदान करने के लिए एक साधारण स्थान प्रदान करता है। इससे उन लोगों को भी हेलमेट उपलब्ध होगा जिन्हें इसे खरीदने की क्षमता नहीं होगी, और उनकी सुरक्षा के लिए यह महत्वपूर्ण है।

Read More:

SHARE
- Advertisement -
RELATED ARTICLES

Most Popular